May 28, 2024
ruskin bond biography in hindi

आज के इस आर्टिकल में हम भारत के जाने-माने लेखक Ruskin Bond के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे, ऐसे बहुत से लोग हैं जो Ruskin Bond के बारे में जानने के लिए उत्सुक रहते हैं, आज हर सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे कि Ruskin Bond पेशे से क्या हैं? वह कहां रहते हैं? उन्होंने अब तक कौन-कौन सी किताबें लिखी है? उनकी आज तक की क्या-क्या उपलब्धियां हैं? उनका बचपन कैसे बीता, इत्यादि।

ruskin bond biography in hindi
Ruskin Bond Biography In Hindi

दोस्तों इस आर्टिकल में आपको बहुत ही आनंद आने वाला है, इसलिए आर्टिकल में आखिर तक जरूर बने रहिएगा, आइये दोस्तों आर्टिकल को जल्दी शुरू करते हैं और Ruskin Bond के बारे में जान लेते हैं।

Ruskin Bond Biography

Ruskin Bond ब्रिटिश मूल के एक विश्वप्रसिद्ध भारतीय लेखक हैं, उनके पिता Aubrey Alexander Bond भारत में तैनात रॉयल एयर फोर्स के एक अधिकारी थे, उनकी माता का नाम Edith Dorothy था, Ruskin Bond का जन्म 19 May 1934 को कसौली, हिमाचल प्रदेश में हुआ था, उनकी पढ़ाई शिमला के बिशप कॉटन स्कूल में हुई थी, उनका पहला उपन्यास ‘The Room On The Roof’ था, जिसे 1957 में जॉन लेवेलिन राइस पुरस्कार भी मिला था।

NameRuskin Bond
FatherAubrey Alexander Bond
MotherEdith Dorothy
Date Of Birth19 May 1934
Age (as in 2021)87
NicknameRusty
ProfessionAuthor
Height5’3 feet
Weight90
HairWhite
EyeBlue
Zodiac signTaurus
NationalityIndian
ReligionChristian
First BookThe Room On The Roof
BrotherWilliam Bond
SisterEllen Bond
AddressIvy Cottage, Landour, Masuri, Dehradun, Uttarakhand
AwardsPadma Shri, Padma Bhushan .etc

Ruskin Bond Childhood And Early Life (रस्किन बॉन्ड का बचपन और प्रारंभिक जीवन) 

Ruskin Bond की पढ़ाई शिमला के बिशन कॉटन स्कूल में हुई थी, वहां से उन्होंने अपना स्नातक 1950 में पूरा किया, उन्हे पढ़ने का बहुत शौक था, उनके पसंदीदा लेखक चार्लोट ब्रोन्टे, टी ई लॉरेंस, चार्ल्स डिकेंस, रूडयार्ड किपलिंग इत्यादि थे, और वो इनके कामों से बहुत अधिक प्रभावित थे।

उन्होंने अपने जीवन के शुरुआती समय में ही लेखन की ओर रुख कर लिया था, उन्होंने लेखन के क्षेत्र में इरविन दिव्यता पुरस्कार और हेली लिटरेचर पुरस्कार भी हासिल किए, उन्होंने 1951 में 16 साल की उम्र में ही अपनी पहली लघु कहानी ‘अछूत’ लिख दी थी।

Ruskin Bond Bio In Hindi

हाई स्कूल से स्नातक करने के बाद वह बेहतर संभावनाओं की तलाश में लंदन,यूके गए थे, वहीं से उन्होंने अपने पहले उपन्यास ‘द रूम ऑन द रूफ’ पर काम करना शुरू किया था, उन्होंने 1957 में जॉन लेवलिन Rhys Prize भी जीता था, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह पुरुस्कार ब्रिटिश राष्ट्रमंडल लेखक के तहत 30 साल से भी कम उम्र वालों को दिया जाता है।

Ruskin Bond Marriage

दोस्तो अगर आपको पता नही है तो आपको बता दें कि Ruskin Bond ने कभी शादी नहीं की, यह सुनकर आपको थोड़ी हैरानी तो हुई होगी लेकिन हां यह सच है, वह मसूरी, उत्तराखंड में अपने दत्तक परिवार के साथ रहते हैं।

Ruskin Bond Career (रस्किन बॉन्ड करियर) 

Ruskin Bond अपने कामों के लिए प्रकाशक खोजना चाहते थे, जिसके लिए कुछ समय के लिए उन्होंने एक फोटो स्टूडियो में भी काम किया था।

उन्होंने अपनी पहली लघु कहानी को 16 साल की उम्र में ही लिख दिया था, वह बेहतर संभावनाओं की तलाश में यूनाइटेड किंगडम भी गए थे, लेकिन कुछ वर्षों बाद वह वापस भारत लौट आए, उन्होंने जीवनयापन के लिए अपनी युवावस्था में स्वतंत्र होकर पत्रिकाओं और अखबारों के लिए लघु कथाएं और कविताएं भी लिखी।

उसके कुछ सालों बाद उन्हें पेंग्विन बुक्स ने संपर्क किया, जिसने बाद में आगे चलकर उनके कई संग्रह भी प्रकाशित किए। 1963 में वह मसूरी रहने आ गए और बाद में उन्होंने वहीं से अपने लेखन को आगे बढ़ाया, इस समय तक वह एक लोकप्रिय लेखक बन चुके थे।

Ruskin Bond Age
Ruskin Bond Bio

उनके निबंध, लेख, कविताएं इत्यादि बड़े-बड़े समाचार पत्रों और पत्रिकाओं जैसे कि ‘लीडर’, ‘द ट्रिब्यून’, ‘द टेलीग्राफ’, ‘द पायनियर’ में प्रकाशित होते थे, उन्होंने 4 सालों तक एक पत्रिका का प्रकाशन भी किया था।

Ruskin Bond के सबसे लोकप्रिय उपन्यासों में से एक ‘द ब्लू अंब्रेला’ 1980 में प्रकाशित हुआ था, एक लेखक के तौर पर उनकी बढ़ती प्रसिद्धि ने ही पेंग्विन बुक्स का ध्यान अपनी ओर खींचना शुरू किया, और फिर उसके बाद प्रकाशकों ने 1980 के दशक में रस्किन बॉन्ड को संपर्क करने का सोचा, और अपने लिए कुछ किताबों को लिखने के लिए कहा।

1993 में पेंग्विन इंडिया ने उनके पिछले उपन्यासों में से दो, ‘ऑन द रूम’, ‘ऑन द रूफ’, और इसके सीक्वल वग्रांटस इन द वैली को एक खंड में प्रकाशित किया था। उन्हें भारत में एक लोकप्रिय लेखक के रूप में पहचान मिली, और उनका खूब नाम हुआ, Ruskin Bond को 1999 में पद्मश्री और 2014 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है।

Ruskin Bond Books (रस्किन बॉन्ड की किताबें)

हम आपको Ruskin Bond की कुछ प्रमुख रचनाएं बताने वाले हैं जिनमे उनके नॉन-फिक्शन लेखन का हुनर देखने को मिलता है, उदाहरण के तौर पर कुछ किताबें निम्नलिखित हैं:-

  • ‘हमारे पेड़ ग्रो इन देहरा’ (Our Trees Still Grow In Dehra)
  • ‘शामली में समय रूक जाता है’ (Time Stops At Shamli)
  • ‘एक मौसम भूत का’ (A Season Of Ghosts)
  • ‘द नाइट ट्रेन एट देवली’ (The Night Train At Deoli)

Ruskin Bond का लेखन करियर 5 दशकों से भी अधिक लंबा रहा रहा है, उन्होंने अपने करियर में विभिन्न शैलियों के साथ प्रयोग किया, जिसमें निबंध, कल्पना, आत्मकथात्मक, गैर कल्पना, रोमांस और बच्चों के लिए पुस्तकें शामिल है, उन्होंने अपने लेखन करियर में 500 से भी अधिक लघु कथाएं, उपन्यास, निबंध आदि लिखे हैं।

ruskin bond books
Ruskin Bond Photo

उन्होंने बच्चों के लिए 50 से भी अधिक पुस्तकें और दो आत्मकथाएं (two volumes of autobiography) लिखी हैं, एक लेखक के जीवन के दृश्य (scenes from a writer’s life) और द लैंप इज द लिट (the lamp is lit) लिखी हैं।

उनके बहुत से कामों को टेलीविजन और फिल्म के परदे के ऊपर भी उतारा गया है, बॉलीवुड निर्देशक विशाल भारद्वाज ने साल 2007 में रस्किन बॉन्ड के उपन्यास ‘द ब्लू अंब्रेला’ पर आधारित एक फिल्म बनाई थी, इस फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ बाल फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था, हिंदी फिल्म 7 खून माफ Ruskin Bond की लघु कहानी सुसनना के साथ पतियों पर आधारित है।

Ruskin Bond Major Works (रस्किन बॉन्ड प्रमुख कार्य)

Ruskin Bond का उपन्यास ‘द ब्लू अंब्रेला’ उनकी लोकप्रिय कृतियों में से एक है, इस उपन्यास में एक छोटी लड़की की कहानी बताई गई है, जो अपने पुराने तेंदुए के पंजे के हार को एक सुंदर, मट्टमैले, नीले रंग की छतरी के लिए तैयार करती है, यह कहानी हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से गांव में स्थित है।

जिसकी कहानी दिल को छू लेने वाली और बड़ी ही सरल कहानी है, इस कहानी को विशाल भारद्वाज की एक हिंदी फिल्म के तौर पर भी प्रदर्शित किया गया है, इस कहानी को अमर चित्र तथा प्रकाशनो की सहायता से एक कॉमिक में भी रूपांतरित किया गया है।

1978 में प्रदर्शित हुई हिंदी फिल्म ‘जुनून’ भी Ruskin Bond के ऐतिहासिक उपन्यास ‘ए फ्लाइट ऑफ पीजेंस’ पर आधारित थी।

Ruskin Bond Popular Stories (रस्किन बॉन्ड की लोकप्रिय कहानियां)

Ruskin Bond ने बहुत सारी कहानियां लिखी है जिनकी सबसे अधिक पसंद की जाने वाली कहानियों को हमने नीचे बताया है। 

  • दादी का अचार
  • झुकी हुई कमरवाला भिखारी
  • बुद्धिमान काजी
  • अल्लाह की बुद्धिमानी
  • केन काका ने कार चलाई
  • चालीस भाइयों की पहाड़ी
  • पुखराज
  • सेवॉय के भूत
  • केन काका की नौकरी
  • निठल्ले केन काका
  • अंधेरे में एक चेहरा
  • पतंगवाला
  • एक नन्हा दोस्त

Ruskin Bond Awards And Achievements (रस्किन बॉन्ड पुरस्कार और उपलब्धियां) 

Ruskin Bond जी को बहुत सारे अवार्ड मिले है जिनके बारे में हमने नीचे बताया है। 

  • 1957 में लेवेलिन राइज पुरस्कार
  • 1992 में साहित्य अकादमी अवार्ड फॉर (Our Trees Still Grow In Dehra)
  • 1999 में पद्मश्री
  • 2014 में पद्म भूषण
  • 2017 में लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

Ruskin Bond के बारे मे आपके कुछ सवाल

Ruskin Bond की Books कौन सी है?

बुद्धिमान काजी, अल्लाह की बुद्धिमानी, केन काका ने कार चलाई, चालीस भाइयों की पहाड़ी, पुखराज आदि Ruskin Bond द्वारा लिखी गई है। 

Ruskin Bond की Wife कौन है ?
 Ruskin Bond ने कभी शादी नहीं की, वह मसूरी, उत्तराखंड में अपने दत्तक परिवार के साथ रहते हैं।

Ruskin Bond Instagram Id क्या है?

Ruskin Bond Age

Ruskin Bond की Age 87 साल है ।

Ruskin Bond कहाँ रहते है

रस्किन बांड देहरादून जिले में रहते है

सारांश

तो दोस्तों, कैसा लगा आपको हमारा यह आर्टिकल, इस आर्टिकल में हमने Ruskin Bond की संपूर्ण जानकारी के बारे में विस्तारपूर्वक तरीके से जाना। जैसे कि रस्किन बॉन्ड का बचपन कैसा था? उनका करियर किस प्रकार का रहा? उनके परिवार के बारे में जाना, इत्यादि।

अगर आपको इसमें दी गई जानकारी अच्छी लगी है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आपका अब भी कोई सवाल रह गया है, या आप कोई और जानकारी जानना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं, हम आपके कमेंट का जवाब जल्दी से जल्दी देने की कोशिश करेंगे।

आपके काम की अन्य पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *