Anne Frank Biography In Hindi | ऐनी फ्रैंक का जीवन परिचय हिंदी में

ऐनी फ्रैंक कौन है, ऐनी फ्रैंक का जन्म, प्रारंभिक जीवन, फैमिली, डायरी, मृत्यु (Anne Frank In Hindi, Who Is Anne Frank, Anne Frank Birthday, Death, Age, Book, Quotes)

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे एक ऐसी लड़की के बारे में जिसने महज 15 साल की उम्र में अपनी डायरी “The Diary of A Young Girl” से पूरी दुनिया में नाम कमाया है। वह मरने के बाद भी सबके दिलो में बस गई। खासकर औरतों और लड़कियों के लिए वह एक प्रेरणा स्त्रोत भी हैं।

Anne Frank को आज पूरी दुनिया उसके द्वारा लिखी गई डायरी के लिए जानती है। उस डायरी की करोड़ो कॉपीज दुनियाभर में बिक चुकी है। The Diary of A Young Girl, 20th Century की सबसे महान किताबो में से एक मानी जाती है।

इस डायरी में Anne ने नाजी द्वारा यहूदियों पर किए गए अत्याचारों को बहुत ही ढंग से दर्शाया है क्योंकि Anne Frank खुद उस कहानी मे शामिल थी। यह डायरी कई मूवीज और नाटकों का प्रेरणा स्त्रोत मानी जाती है। Anne Frank Diarist ने कहा है कि डायरी के पन्नो में लोगों से ज्यादा धैर्य रहता है।

तो आप ऐनी फ्रैंक कौन है, Who Is Anne Frank के बारे मे जरूर जानना चाहेंगे। इसके लिए आपको इस लेख को पूरा पढ़ना है जिससे कि आप ऐनी फ्रैंक से जुड़े सभी रोचक तथ्य और Anne Frank Death के बारे में जान जाएंगे।


ऐनी फ्रैंक कौन हैं (Who Is Anne Frank)

Anne Frank diary

ऐनी फ्रैंक एक German-Dutch Diarist थी जो “Holocoust” में मारे गए यहूदियों में से एक थीं। वह बहुत कम उम्र में ही लिखना चाहती थी। कौन जानता था कि उनकी मौत के बाद वह पूरी दुनिया की एक प्रसिद्ध कम उम्र दराज की लेखिका बन जाएगी। उनकी मौत के समय उनकी उम्र करीब 15 वर्ष रही थी। 


ऐनी फ्रैंक की जीवनी (Anne Frank Biography In Hindi)

ऐनी फ्रैंक (Anne Frank) का जन्म जर्मनी के फ्रैंकफर्ट शहर में 12 जून सन 1929 को हुआ था। उनका जन्म एक यहूदियों के परिवार ने हुआ था। जब वह महज 4 साल की थी तब जर्मनी पर नाजियों का कब्जा हो गया था। नाजियों से बचने के लिए फ्रैंक परिवार जर्मनी से नीदरलैंड आ गया।

यही कारण था कि उन्हें अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा नीदरलैंड के एमस्टर्डम में व्यतीत करना पड़ा।लेकिन नाजियों ने नीदरलैंड पर हमला कर के वहां पर भी अपना कब्जा कर लिया। ऐसे में सभी यहूदी वहां फस चुके थे और नाजी यहूदियों को ढूंढ ढूंढ कर “Concentration Camp” (यातना शिविर) भेज रहे थे।

इसी दौरान फ्रैंक परिवार ने एक बिल्डिंग में छिपने का निर्णय लिया और वे सभी एक अपार्टमेंट में छिप गए। वह अपार्टमेंट उसी कंपनी का वेयरहाउस था, जिसमे Anne के पिता काम करते थे। उसे बाद में Secret Annex (सीक्रेट एनेक्स) नाम दिया गया। सीक्रेट एनेक्स में फ्रैंक परिवार के साथ चार यहूदी और छिपे हुए थे।

सीक्रेट एनेक्स में छिपने से ठीक 24 दिन पहले ही ऐनी 13 वर्ष की हुई थी। ऐनी के जन्मदिन पर उसके पिता ने उसे उपहार में एक Red कलर की Diary भी दी थी। ऐनी फ्रैंक का परिवार 6 जुलाई 1942 को Secret Annex में छिपा था, जहां पर इन्होंने 2 वर्ष और 35 दिन व्यतीत किए। इसी दौरान ऐनी ने अपनी डायरी भी लिखी थी।


Anne Frank Diary (ऐनी फ्रैंक की डायरी)

Anne Frank जिस डायरी में लिखती थी वह उनके पिता ने उसे गिफ्ट की थी। जब वह मुश्किल में फसी हुई थी और अकेली थी तो Anne ने डायरी को ही अपना फ्रेंड बना लिया। जो भी उनके जीवन में परिस्थितियां और घटनाएं घट रही थी, उन सभी को Anne Frank ने इस डायरी में लिखा है।

Anne Frank के पास उस समय उनकी एक डायरी ही थी जिससे वह अपनी बाते करती थी। ऐनी फ्रैंक अपनी डायरी को किटी बुलाती थी। ऐनी फ्रैंक की डायरी “The Diary of A Young Girl” को पड़कर आपको बिलकुल ऐसा नहीं लगेगा कि यह डायरी किसी 13 साल की लड़की ने लिखी है। डायरी में उसने अपने विचारो और भावों को बिलकुल सटीकता से लिखा है।


Anne Frank ने अपनी Diary में लिखा –

“मैं अपनी परेशानियों के बारे में नहीं सोचती, बल्कि उन सभी अच्छे पलों को याद करती हूं जो अब भी बाकी हैं।”

“मैं उन औरतों जैसे जीवन बिलकुल नहीं जीना चाहती, जो अपना काम करते रह जाती हैं। और भुला दी जाती हैं। मैं इस तरह का जीवन नही जीना चाहती, जैसा ज्यादातर लोग जीते है। मैं एक ऐसा जीवन जीना चाहती हूं जिससे कि दूसरे लोगो को फायदा हो, उनको भी जिनसे में नहीं मिली। मैं मरने के बाद भी जीना चाहती हूं।”


Anne Frank Death (ऐनी फ्रैंक की मृत्यु कैसे हुई)

4 अगस्त सन 1944 को नाजियों ने सीक्रेट एनेक्स को ढूंढ लिया और फ्रैंक फैमिली को “Auschwitz Concentration Camp”(आस्विज यातना शिविर) में भेज दिया। जहां पर ऐनी के पिता ओट्टो फ्रैंक को मां और बच्चो से अलग अलग रखा गया। कुछ समय बाद ऐनी को उसकी बहन मर्गोत फ्रैंक के साथ मां से भी दूर कर दिया गया।

इसके बाद दोनों बहनों को Bergen Belsen Concentration Camp (बर्गेन बेलसेन यातना शिविर) में भेज दिया गया, जहां पर कमजोरी, भूख, फीवर और यातना के कारण ऐनी और उसकी बहन की दर्दनाक मौत हो गई। ऐनी अपनी मृत्यु के समय मात्र 15 वर्ष की और उसकी बहन Margot मात्र 19 वर्ष की थीं।


ऐनी फ्रैंक के कुछ रोचक तथ्य:

  1. ऐनी फ्रैंक एक जर्नलिस्ट और मशहूर लेखिका बनना चाहती थी और कुछ अलग करना चाहती थीं।
  1. यह माना जाता है कि यह डायरी बाइबल के बाद सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली दूसरी पुस्तक है। 
  1. इसे 60 से भी अधिक भाषाओं में Translate किया जा चुका है।
  1. ऐनी के पिता ओट्टो फ्रैंक ही एक ऐसे व्यक्ति थे जो यातना शिविर से छूटकर जिंदा वापस लौटे थे।
  1. ऐनी के पिता ने वापस लौटकर इस डायरी को प्राप्त किया और इसे पब्लिश कराया।

आज अगर ऐनी फ्रैंक जिंदा होती हो वह देख पाती कि उसने कितने लोगो को प्रभावित किया है। इस बात को जानकर ऐनी की खुशी का कोई ठिकाना न होता। लेकिन आज भी वह हम सभी के दिलों में जिंदा है। 


FAQ:

1. Anne Frank की उम्र कितनी है?

Anee Frank की उम्र उनकी मृत्यु के समय 15 वर्ष थी।

2. ऐनी फ्रैंक का जन्म कब हुआ था?

ऐनी फ्रैंक का जन्म 12 जून 1929 को जर्मनी के फ्रैंकफर्ट शहर में हुआ था।

3.Anne Frank की डायरी का नाम क्या है?

Anne Frank के द्वारा लिखी गई डायरी का नाम “The Diary of A Young Girl” है।

4.Anne Frank की मृत्यु कैसे हुई?

ऐनी फ्रैंक की मृत्यु बर्गेन बेलसेन यातना शिविर में टायफस फीवर, भूख, कमजोरी और यातना से हुई।

5.Anne Frank के पिता का नाम क्या है?

Anne Frank के पिता का नाम ओट्टो फ्रैंक था।

6.The Diary of a Young Girl कब पब्लिश हुई।

The Diary of a Young Girl को 25 जून 1974 को Originally Publish किया गया।

अंतिम कुछ शब्द

इस पोस्ट में हमने “Holocaust” में मारी गई विक्टिम ऐनी फ्रैंक की जीवनी के बारे मे बताया है। आशा करते है आप यह पोस्ट पढ़कर Anne Frank Biography के बारे मे सब कुछ जान गए होंगे। Anne Frank के बारे में कोई अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए नीचे कमेंट कर सकते हैं।

आपके काम की अन्य पोस्ट

Anjali Arora Biography In Hindi; Age, Height, Family, Boyfriend, Real Name

Draupadi Murmu Bio In Hindi | द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय

Pawandeep Rajan Age, Height, Family, Girlfriend, Biography In Hindi

Hello, My name is Ramveer Dhakar. I am a professional blog writer and working on moviesmentor.in since September 2021

Leave a Comment